ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्। उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥
इला – एक नारी की अनक़ही कहानी
Painting by Raja Ravi varma

इला – एक नारी की अनक़ही कहानी

लघु कथा  क्षितिज पर सूर्य देव की पहली किरण फूट चुकी थी। आधी सुख चुकी गोदावरी में खड़ी इला आँखे बंद कर उनको जल चढ़ा रही थी। सूरज की किरणे…

Continue Reading
Close Menu