Tag: #hindikavita #hindipoem #art #society #love #shailism

“तुम्हारे हिस्से के तारें”

अगर आज धुंध कम होगी तो, तुम्हे आपने हिस्से के आसमान के, कुछ सितारे भेजूंगा... जानता हूँ तुम्हारे हिस्से के तारें, काले बादलों की कैद मैं हैं...
Read More