Tag: #hindi #kavita #poem

Ek Din

जो धूल पैरों पर है लगी तेरे, वो जानती है, तू उसे ज़मीन बना देगा, इतनी आग है तुझमें, कि एक दिन, तू असमां पिघला उस पर बरसा देगा।
Read More