Tag: #hindi #kavita #poem #love #dog #hindikavita

“दरवाज़े का सिपाही”

बस कुछ रोटी के टुकड़े ही डाले थे उसे और वो मेरे दरवाज़े का सिपाही बन गया, अब घर से निकलते ही मेरे वो साथ कुछ दूर तक सड़क नापता…
Read More