Shailism Revolutionary soul

Featured Content

“तुम्हे भी रोशन कर दूंगा मैं”

तुम ही रख लो उस जलते सूरज को, उन टूटने वाले तारों के झुण्ड को, तुम ही रख लो उस दाग वाले चाँद को, अँधेरा देना है, दे दो मुझे,…
Read More

Let’s Live Life…!

It causes much pain, doesn’t it? And perhaps Anger too? The soul becomes restless, tears start to well up to our eyes, falling unchecked when once again we reminisce those…
Read More

इश्क़ की मिश्री

इश्क़ वाली दुकान से, इश्क़ की मिश्री लाया था, कुछ हिस्से में चींटी लग गई, कुछ बेस्वाद सा हो गया, अब उस दुकान की तरफ रुख नहीं मेरा…
Read More

Time In Turmoil

Every land, every religion, even the sea and sky has been split into many parts by Humankind, but not equally as they so believe. They have seized immense lands, dividing…
Read More

कभी खुद से बातें की है

कभी खुद से बातें की है ज़रा कर के देखो एक अरसा एक पल में गुज़र जाएगा पर बातें खत्म न होंगी.. कई किस्से निकलेंगे जो साथ गुज़ारे है तुमने…
Read More

“AN OLD MAN UNDER A MANGO TREE”

My pottery teacher turned to me smacking a clump of cold clay into my hesitant hands.   “Make something with this," she said.   “What! But today is my first day!" I implored.…
Read More

“Khawish”

उसके बाद तुम्हारी ख्वाहिशे पूरी करंगे, वो अधूरे सपने और टूटे तारों को मिलके जोड़ेंगे, फिर एक नया आसमान बनायंगे कुछ हमारे तो कुछ नारंगी नील रंगो से उसे भरेंगे,…
Read More