Category: Short Stories

“इंतज़ार”

"आपके बेटे का कोई खत नहीं आया माँ जी ", डेस्क के पीछे बैठे एक आदमी ने कहा. यह सुन वो अपनी मोतीया बिंद वाली नज़रों को निचे किये, लकड़ी…
Read More

“Intazar Raam Ka”

नन्हे राम ने चौखट पर दीया रखती हुई अपनी माँ से पूछा ” माँ दिवाली क्यों मानते हैं?” माँ ने मुस्कुराते हुए कहा ” आज के दिन राम जी आपने…
Read More

“चुप्पी”

कल रात लैंडस्लाइडिंग होने की वजह से यँहा तक आने वाला एक मात्र रास्ता बंद हो चूका है.. मौसम को देखते हुए तीन चार दिन में रास्ता खुल जाने की…
Read More